GERD in Hindi: कारण, लक्षण, उपचार, सावधानियांं

GERD (Gastroesophageal Reflux Disease) in Hindi

GERD क्या है? / What is GERD in Hindi?

यह एक बीमारी है जब पेट का एसिड भोजन नली (एसोफैगस) में वापस चला जाता है। यह पेट का एसिड भोजन नली के अस्तर को परेशान कर सकता है और Esophagitis, एसोफैगल कार्सिनोमा (एसोफैगल कैंसर), एसोफैगल अल्सर और डिस्पैगिया (Dysphagia) जैसी स्थितियों का कारण बन सकता है।

पेट का एसिड आमतौर पर LES (लोअर एसोफैगल स्फिंक्टर) की असामान्यता के कारण भोजन नली में वापस बह जाता है, जो अन्नप्रणाली के अंतिम भाग में मौजूद होता है।

LES (लोअर एसोफैगल स्फिंक्टर): यह मांसपेशियों का एक बंडल(Bundle) होता है जो भोजन नली के निचले सिरे पर स्थित होता है।

जब आप भोजन निगलते हैं, तो LES (लोअर एसोफैगल स्फिंक्टर) शिथिल (relax) हो जाता है और भोजन को पेट में प्रवेश करने देता है, और फिर यह अपने आप बंद हो जाता है ताकि पेट का एसिड भोजन नली में प्रवेश न करे। लेकिन जब LES (लोअर एसोफैगल स्फिंक्टर) असामान्य हो जाता है, तो यह खुल जाता है और जिससे पेट का एसिड आसानी से भोजन नली में प्रवेश कर जाता है।

अब आप सोच रहे होंगे कि अगर पेट का एसिड इतना हानिकारक है, तो यह पेट को ही नुकसान क्यों नहीं पहुंचाता है। यह सिर्फ इसलिए है क्योंकि पेट का अपना खुद का रक्षात्मक कारक होता है जिसे गैस्ट्रिक म्यूकोसा(Gastric Mucosa) कहा जाता है जो पेट की परत को पेट के एसिड (हाइड्रोक्लोरिक एसिड) से बचाता है। जबकि अन्नप्रणाली के अस्तर पर यह सुरक्षात्मक गैस्ट्रिक म्यूकोसा नहीं होता है।

GERD के कारण / Causes of GERD in Hindi

GERD (गैस्ट्रोएसोफेगल रिफ्लक्स डिजीज) के कारण हो सकते हैं:

बुरी खाने की आदतें / Bad Eating Habits

खाने की गलत आदतें GERD के विकास का एक कारण हो सकती हैं। खाने की बुरी आदतों में अधिक खाना, मसालेदार भोजन करना और खाने के बाद लेटना शामिल है।

मोटापा / Obesity

मोटापा भी GERD का कारण हो सकता है। मोटे होने से पेट पर दबाव बढ़ सकता है और GERD होने की संभावना बढ़ सकती है।

गर्भावस्था / Pregnancy

गर्भावस्था के कारण GERD होने का कारण भी पेट पर अधिक दबाव होना है।

धूम्रपान / Smoking

जब आप धूम्रपान करते हैं, तो यह LES को शिथिल (Relax) कर सकता है और पेट के एसिड को बढ़ाने और भोजन नली में वापस आने की संभावना बढ़ा सकता है।

Hiatal Hernia

यह एक ऐसी स्थिति है जब पेट का एक हिस्सा डायाफ्राम (Diaphragm) के माध्यम से ऊपर की ओर निकल जाता है। इस स्थिति में, पेट की सामग्री का भोजन नली में प्रवाह करना आसान हो जाता है।

हायटल हर्निया LES को कमजोर करता है और आमतौर पर इसका निदान एंडोस्कोपी द्वारा किया जाता है। Hiatal हर्निया का सबसे बेहतर इलाज सर्जरी है।

दवाएं / Medications

NSAID (नॉन-स्टेरायडल एंटी इंफ्लेमेटरी ड्रग्स), ट्राईसाइक्लिक एंटीडिप्रेसेंट्स, कैल्शियम चैनल ब्लॉकर्स, बेंज़ोडायज़ेपींस और अस्थमा की दवाओं जैसी दवाएं भी GERD का कारण बन सकती हैं।

लक्षण / Symptoms of GERD in Hindi

GERD से जुड़ा सबसे आम लक्षण है हार्टबर्न (सीने में जलन)।

इसके कुछ अन्य लक्षण हो सकते हैं जैसे:

  • छाती में दर्द (Chest Pain)
  • भोजन निगलने में कठिनाई (Dysphagia)
  • जी मिचलाना (Nausea)
  • उल्टी (Vomiting)
  • नींद की समस्या (Sleep Problem)
  • लैरींगाइटिस (Laryngitis)

उपचार / Treatment of GERD in Hindi

अधिकांश मामलों में, GERD का इलाज दवाओं के साथ किया जाता है जैसे:

  • Antacids
  • H2 Blockers
  • PPIs (प्रोटॉन पंप इन्हिबिटर्स)

Antacids

डॉक्टर GERD के इलाज के लिए आपको सोडियम बाइकार्बोनेट, कैल्शियम कार्बोनेट और मैग्लैड्रेट जैसे एंटासिड लिख सकते हैं। एंटासिड आमतौर पर पेट के एसिड के PH को बढ़ाकर और इसे बेअसर(Neutralize) करके काम करते हैं। इस प्रकार यह आपके पेट के एसिड को कम अम्लीय (Acidic) बनाते है ताकि यह अन्नप्रणाली के अस्तर को नुकसान न पहुंचाए। एंटासिड तेजी से प्रभाव दिखाते हैं और पेट में जलन और एसिडिटी से तुरंत राहत दिलाते हैं।

H2 Blockers

डॉक्टर GERD के इलाज के लिए H2 ब्लॉकर्स जैसे कि रैनिटिडिन, सिमेटिडाइन और फैमोटिडाइन लिख सकते हैं। H2 ब्लॉकर्स आमतौर पर पेट के एसिड के गठन को कम करके काम करते हैं और पेट में जलन और GERD के अन्य लक्षणों से राहत में मदद करते हैं।

PPIs (प्रोटॉन पंप इन्हिबिटर्स)

पीपीआई जैसे ओमेप्राजोल, पैंटोप्राजोल, रैबिप्राज़ोल, एसोमेप्राज़ोल भी पेट के एसिड के गठन को कम / अवरुद्ध करके काम करते हैं। इसके परिणामस्वरूप पेट में एसिड की मात्रा कम हो जाती है और यह भोजन नली में वापस प्रवाह करने के लिए पर्याप्त वृद्धि नहीं कर पाता है।

गंभीर मामलों में, GERD के इलाज के लिए सर्जरी भी की जा सकती है। सर्जरी आमतौर पर हायटल हर्निया के मामले में की जाती है।

सावधानियांं / Precautions

  • यदि आप एक मोटे व्यक्ति हैं, तो आपको वजन कम करने की कोशिश करनी चाहिए ।
  • धूम्रपान न करें, क्योंकि इससे आपका LES शिथिल हो सकता है।
  • शराब का सेवन न करें। क्योंकि इससे पेट में एसिड बढ़ सकता है।
  • एक समय में कम भोजन करने की कोशिश करे।
  • खाने के बाद मत लेटे।

सारांश / Summary

GERD (Gastroesophageal Reflux Disease) एक ऐसी स्थिति है जब पेट का एसिड वापस भोजन नली में बह जाता है और भोजन नली के अस्तर को परेशान करता है।

GERD के मुख्य कारणों में गलत खान-पान, हायटल हर्निया, अधिक वजन और धूम्रपान शामिल हैं। इसका इलाज एंटासिड्स, पीपीआई (प्रोटॉन पंप इनहिबिटर्स), और एच 2 ब्लॉकर्स जैसी दवाओं के साथ किया जा सकता है।

गंभीर मामलों में, GERD के इलाज के लिए सर्जरी भी की जा सकती है।

चेतावनी: Pharmababa.com में निहित जानकारी उपभोक्ताओं को शिक्षित करने के उद्देश्य से प्रस्तुत की गई है। Pharmababa.com में निहित कुछ भी चिकित्सीय निदान या उपचार के लिए अनुदेशात्मक नहीं है। Pharmababa.com में प्रस्तुत की गई सूचना को पूर्ण नहीं माना जाना चाहिए, न ही किसी विशेष व्यक्ति के लिए उपचार के पाठ्यक्रम का सुझाव देने के लिए इस पर भरोसा किया जाना चाहिए। Pharmababa.com में प्राप्त जानकारी संपूर्ण नहीं है और सभी बीमारियों, शारीरिक स्थितियों या उनके उपचार को कवर नहीं करती है।