Lulibet Cream in Hindi: फंगल इन्फेक्शन में असरदार

Lulibet Cream in Hindi

Compositionलुलिकोनाज़ोल (1% w/w)
कंपनीIntas Pharmaceuticals Ltd
दवा का प्रकारएंटी फंगल
प्रिस्क्रिप्शन आवश्यक हैहाँ
उपयोगफंगल संक्रमण के उपचार में
दुष्प्रभावजलन, लालिमा (redness)
सावधानियांंअतिसंवेदनशीलता

लूलिबेट क्रीम के सामान्य उपयोग / General uses of Lulibet Cream in Hindi

लूलिबेट क्रीम एक एंटी-फंगल क्रीम है। इसका उपयोग कवक (fungi) के कारण होने वाले संक्रमण (फंगल संक्रमण) के उपचार के लिए किया जाता है।

यह आमतौर पर दाद, टिनिया पेडिस (एथलीट फुट), और टिनिया क्रूरिस (जॉक खुजली) जैसी स्थितियों के लिए निर्धारित की जाती है।

लूलिबेट क्रीम कब निर्धारित की जाती है? / When Lulibet Cream is prescribed?

लूलिबेट क्रीम आमतौर पर निम्नलिखित स्थितियों में निर्धारित की जाती है:

दाद: दाद एक फंगल त्वचा संक्रमण है जिसके कारण शरीर के विभिन्न हिस्सों पर लाल पपड़ीदार दाने हो जाते है।

एथलीट फुट: एथलीट फुट या टीनिया पेडिस पैर की उंगलियों के बीच होने वाला एक फंगल संक्रमण है।

जॉक इच: जॉक इच या टीनिया क्रूरिस एक फंगल त्वचा संक्रमण है जो अक्सर ग्रोइन या नितंब की त्वचा पर होता है।

Lulibet Cream आमतौर पर दाद, जॉक इच, और एथलीट फुट के उपचार के लिए निर्धारित की जाती है। यह अन्य कवक (fungal) स्थितियों के लिए भी निर्धारित की जा सकती है।

लूलिबेट क्रीम से जुड़े कुछ टिप्स / Tips related to Lulibet Cream

  • आपका डॉक्टर आमतौर पर फंगल इन्फेक्शन के इलाज के लिए आपको लूलिबेट क्रीम लगाने की सलाह दे सकता है।
  • अपने डॉक्टर या फार्मासिस्ट द्वारा सुझाए अनुसार दिन में एक या दो बार प्रभावित क्षेत्र पर लूलिबेट क्रीम को लगाएं।
  • आपको लूलिबेट क्रीम का इस्तेमाल करना बंद नहीं करना चाहिए भले ही आपको अपने संक्रमण में सुधार दिख रहा हो। इस क्रीम का प्रयोग बहुत जल्द बंद कर देने से संक्रमण पूरी तरह से ठीक नहीं होगा और आपके संक्रमण के लक्षण भी दोबारा दिख सकते है।
  • लूलिबेट क्रीम का इस्तेमाल डॉक्टर द्वारा बताए गए समय से ज़्यादा बार न करें।
  • अगर आपको इस क्रीम का उपयोग करने के बाद त्वचा पर जलन या लालिमा का सामना करना पड़ रहा है तो तुरंत अपने डॉक्टर से परामर्श करे।
  • आपको अपनी आंखों, मुंह या नाक में लूलिबेट क्रीम को जाने से बचाना चाहिए।

लूलिबेट क्रीम का उपयोग कैसे करें? / How to use Lulibet Cream in Hindi?

लूलिबेट क्रीम को साफ और सूखे हाथों से प्रभावित जगह पर लगाएं।

इस क्रीम को लगाने के बाद हमेशा अपने हाथ धोएं।

अगर यह आपकी आंखों, मुंह और नाक में चला जाता है, तो तुरंत इसे पानी से धो लें।

Lulibet Cream के दुष्प्रभाव / Side effects of Lulibet Cream in Hindi

लूलिबेट क्रीम त्वचा के उस हिस्से पर खुजली या जलन पैदा कर सकती है जहाँ इसे फंगल सक्रमण के इलाज के लिए लगाया गया है।

सावधानियांं / Precautions

अतिसंवेदनशीलता: यदि आप लुलिकोनाज़ोल के प्रति अतिसंवेदनशील (एलर्जिक) हैं, तो आपको लूलिबेट क्रीम का उपयोग करने से बचना चाहिए।

Lulibet Cream का संग्रहण / Storage of Lulibet Cream

कमरे के तापमान पर लूलिबेट क्रीम को स्टोर करें।

यह भी पढ़ें:  Rabemac LS Capsule in Hindi: उपयोग, दुष्प्रभाव, सावधानियांं

इस दवा को बच्चों और पालतू जानवरों से दूर रखें।

इस दवा को सीधी धूप से दूर रखें।

लूलिबेट क्रीम की सामग्री / Ingredients of Lulibet Cream

Luliconazole: Lulibet Cream में luliconazole (1% w/w) होता है। यह दवाओं के एक समूह से संबंधित है जिसे इमिडाज़ोल एंटीफंगल के रूप में जाना जाता है। इसका उपयोग फंगल संक्रमण के उपचार में किया जाता है।

लूलिबेट क्रीम कैसे काम करती है? / Mode of action

लूलिबेट क्रीम में लुलिकोनाज़ोल 14α-डाइमेथिलेज एंजाइम को रोककर लैनोस्टेरॉल से एर्गोस्टेरॉल के संश्लेषण में बाधा डालकर काम करता है। इस प्रकार एर्गोस्टेरॉल के संश्लेषण को बाधित करने से कवक (fungi) की कोशिका झिल्ली (cell membrane) नष्ट हो जाती है और फंगल संक्रमण का इलाज करने में मदद मिलती है।

लूलिबेट क्रीम के विकल्प / Substitutes of Lulibet Cream

Lulifin CreamSun Pharmaceutical Industries Ltd
Lulican CreamGlenmark Pharmaceuticals Ltd
L-Sys CreamSystopic Laboratories Pvt Ltd
Luliderm CreamAristo Pharmaceuticals Pvt Ltd
Lulimac CreamMacleods Pharmaceuticals Pvt Ltd
Ludura CreamCipla Ltd

कुछ सामान्य प्रश्न

Lulibet Cream के क्या प्रयोग हैं?

Lulibet Cream एक एंटी-फंगल दवा है। यह आमतौर पर फंगल संक्रमण के उपचार में प्रयोग की जाती है। यह दाद, एथलीट फुट और जॉक इच (jock itch) के उपचार के लिए निर्धारित की जा सकती है।

क्या मैं गर्भावस्था के दौरान Lulibet Cream का उपयोग कर सकती हूं?

Lulibet Cream का उपयोग गर्भावस्था के दौरान केवल तभी किया जाना चाहिए जब यह आपके डॉक्टर या फार्मासिस्ट द्वारा निर्धारित की गयी हो।

क्या मैं सोरायसिस के लिए Lulibet Cream का उपयोग कर सकता हूं?

नहीं, Lulibet Cream सोरायसिस के इलाज में कारगर नहीं होगी। यह केवल आपको फंगल संक्रमण का इलाज करने में मदद कर सकती है।

Lulibet Cream के क्या दुष्प्रभाव हैं?

Lulibet Cream त्वचा के उस हिस्से में जलन और लालिमा पैदा कर सकती है जहाँ इसे लगाया गया है।

मुझे दिन में कितनी बार Lulibet Cream का उपयोग करना चाहिए?

Lulibet Cream आमतौर पर दाद और जॉक इच के इलाज के लिए दिन में एक बार और एथलीट फुट के इलाज के लिए दिन में दो बार निर्धारित की जाती है। हालाँकि, आपको इस दवा का उपयोग केवल अपने डॉक्टर द्वारा सुझाए अनुसार ही करना चाहिए।

सारांश / Summary

लूलिबेट क्रीम एक एंटी-फंगल दवा है जिसमें सक्रिय अव्यव के रूप में लुलिकोनाज़ोल होता है। यह आमतौर पर दाद, एथलीट फुट और जॉक इच जैसे फंगल संक्रमण के उपचार में उपयोग की जाती है।

यदि आपको लुलिकोनाज़ोल से एलर्जी है तो आपको लूलिबेट क्रीम का उपयोग करने से बचना चाहिए।

संक्रमण में सुधार होने पर भी इस क्रीम का उपयोग करना बंद न करें। इस क्रीम का उपयोग बहुत जल्द बंद कर देने से आपके लक्षण वापस आ सकते हैं।

चेतावनी: Pharmababa.com में निहित जानकारी उपभोक्ताओं को शिक्षित करने के उद्देश्य से प्रस्तुत की गई है। Pharmababa.com में निहित कुछ भी चिकित्सीय निदान या उपचार के लिए अनुदेशात्मक नहीं है। Pharmababa.com में प्रस्तुत की गई सूचना को पूर्ण नहीं माना जाना चाहिए, न ही किसी विशेष व्यक्ति के लिए उपचार के पाठ्यक्रम का सुझाव देने के लिए इस पर भरोसा किया जाना चाहिए। Pharmababa.com में प्राप्त जानकारी संपूर्ण नहीं है और सभी बीमारियों, शारीरिक स्थितियों या उनके उपचार को कवर नहीं करती है।

Sahil Nasa (B. Pharma)
Sahil Nasa (B. Pharma)

साहिल पेशे से फार्मासिस्ट है। इन्हें किताबें पढ़ना और ब्लॉग लिखना पसंद है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.