Levocet M Syrup Uses in Hindi: बंद नाक, जुकाम, सर्दी

Levocet M Syrup uses in Hindi

Compositionमोंटेलुकास्ट (4mg/5ml) + लेवोसेटिरिज़िन (2.5mg/5ml)
कंपनीHetero Drugs Ltd
दवा का प्रकारLeukotriene Receptor Antagonist, एंटीहिस्टामाइन
प्रिस्क्रिप्शन आवश्यक हैहाँ
उपयोगसर्दी जुकाम, हे फीवर, एलर्जिक राइनाइटिस
दुष्प्रभावमतली, सिरदर्द, चक्कर आना
सावधानियांंअतिसंवेदनशीलता

लेवोसेट एम सिरप के उपयोग / Uses/Benefits of Levocet M Syrup in Hindi

लेवोसेट एम सिरप का उपयोग बच्चों में सर्दी जुकाम के लक्षणों जैसे कि बहती नाक, छींक आना, नम आँखें (watery eyes) और बंद नाक के उपचार में किया जाता है।

इसका उपयोग ब्रोन्कियल अस्थमा के कारण होने वाले लक्षणों जैसे कि घरघराहट, सांस लेने में कठिनाई और खांसी के उपचार में भी किया जा सकता है।

इस दवा का उपयोग कुछ अन्य त्वचा संबंधी एलर्जी (allergic skin reaction) के इलाज के लिए भी किया जा सकता है।

यह दवा दोहरा प्रभाव दिखाती है। यह एलर्जी के लक्षणों के उपचार में मदद करती है और साथ ही वायुमार्ग में सूजन को कम करने में मदद करती है जिससे सांस लेना आसान हो जाता है।

लेवोसेट एम सिरप की सामग्री / Ingredients

Montelukast: इसमें मोंटेलुकास्ट (4mg/5ml) होता है। Montelukast, Leukotriene Receptor Antagonist के नाम से जानी जाने वाली दवाओं के वर्ग से सम्बंधित है। यह वायुमार्ग में सूजन को कम करने में मदद करता है और सांस लेना आसान बनाता है। इसका उपयोग ब्रोन्कियल अस्थमा के इलाज में भी किया जा सकता है।

Levocetirizine: Levocet M Syrup में levocetirizine (2.5mg/5ml) शामिल है। यह एंटीहिस्टामाइन नामक दवाओं के वर्ग से सम्बंधित है। एंटीहिस्टामाइन दवाओं का उपयोग आमतौर पर एलर्जी के लक्षणों जैसे कि छींक आना, खुजली, आंखों में जलन और नाक बहने के इलाज में किया जाता है।

लेवोसेट एम सिरप (Levocet M Syrup) से जुड़े कुछ सुझाव in Hindi

  • आपका डॉक्टर बहती नाक, बंद नाक, सांस लेने में कठिनाई, घरघराहट और छींक आना जैसे लक्षणों के उपचार के लिए यह दवा लेने की सलाह दे सकता है।
  • इस दवा को दिन में एक या दो बार लेने की सलाह दी जा सकती है।
  • यह दवा ऐसे लक्षण पैदा कर सकती है जिससे नींद आ सकती है। इसलिए इस दवा को अक्सर रात को सोने से पहले लेने की सलाह दी जाती है।
  • इस दवा को निर्धारित किये गए समय से अधिक बार न लें।

लेवोसेट एम सिरप (Levocet M Syrup) कब निर्धारित किया जाता है?

सर्दी जुकाम: लेवोसेट एम सिरप का उपयोग बच्चों में सर्दी जुकाम (cold) के लक्षणों जैसे छींक आना, बहती नाक, आँखों में जलन आदि के उपचार में किया जा सकता है।

एलर्जिक राइनाइटिस: यह आमतौर पर allergens (एक हानिकारक पदार्थ) के कारण होता है जो अक्सर खाने या सांस के द्वारा शरीर में प्रवेश करते है। एलर्जी की प्रतिक्रिया के लिए allergens जिम्मेदार होते हैं और इसके कारण खुजली, छींक आना, त्वचा पर जलन और आंखों में जलन जैसे लक्षण पैदा हो सकते हैं। Levocet M Syrup को एलर्जिक राइनाइटिस के उपचार में निर्धारित किया जा सकता है।

ब्रोन्कियल अस्थमा: यह एक ऐसी स्थिति है जब वायुमार्ग संकुचित (narrowed) हो जाता है, इसमें सूजन हो जाती है और सांस लेने में कठिनाई होती है। इस दवा में मोंटेलुकास्ट वायुमार्ग में सूजन को कम करने में मदद करता है और सांस लेना आसान बनाता है। इसलिये यह दवा ब्रोन्कियल अस्थमा के इलाज में निर्धारित की जा सकती है।

Levocet M Syrup का उपयोग अन्य स्थितियों में भी किया जा सकता है जैसे ब्रोन्कोस्पैस्म, मौसमी एलर्जिक राइनाइटिस (seasonal allergic rhinitis) और कुछ अन्य त्वचा की एलर्जी

Levocet M Syrup के साइड इफेक्ट्स / Side effects of Levocet M Syrup in Hindi

यह दवा कुछ साइड इफेक्ट्स दिखा सकती है जैसे:

  • जी मिचलाना
  • उल्टी
  • त्वचा के लाल चकत्ते
  • दस्त
  • सिर चकराना
  • सरदर्द

सावधानियांं / Precautions

लीवर या किडनी रोग: इस दवा का उपयोग लीवर या किडनी की बीमारी वाले रोगियों में सावधानी के साथ किया जाना चाहिए।

अतिसंवेदनशीलता: यदि आपके बच्चे को कभी भी लेवोसेट एम सिरप के किसी भी अवयव (मॉन्टेलुकास्ट और लेवोसेटिरिज़िन) के प्रति अतिसंवेदनशीलता (एलर्जी) महसूस हुई है, तो आपको इस दवा का उपयोग करने से बचना चाहिए।

लेवोसेट एम सिरप का उपयोग कैसे करें? / How to use Levocet M Syrup in Hindi?

अपने डॉक्टर से सलाह के अनुसार अपने बच्चे को Levocet M Syrup की खुराक दें।

इस दवा को भोजन के साथ या बिना भोजन किये भी लिया जा सकता है।

सटीक निर्धारित मात्रा के लिए मापने वाले कप का उपयोग करने का प्रयास करें।

इस दवा का उपयोग करने से पहले लेबल को ध्यान से पढ़ें।

लेवोसेट एम सिरप का संग्रहण / Storage

कमरे के तापमान पर लेवोसेट एम सिरप को स्टोर करें।

इसे सीधी धूप (direct sunlight) से दूर रखें।

इस सिरप को फ्रिज में ना रखें।

इस दवा को पालतू जानवरों और बच्चों से दूर रखें।

अपने डॉक्टर को बताएं अगर:

  • आपके बच्चे को लेवोसेट एम सिरप के किसी भी तत्व से एलर्जी है।
  • आपका बच्चा एक अस्थमा रोगी हैं या अस्थमा के इलाज के लिए कुछ अन्य दवाएं ले रहा हैं।

लेवोसेट एम सिरप कैसे काम करता है? / Mechanism of action

इस दवा में मोंटेलुकास्ट ल्यूकोट्रियन को उनके संबंधित ल्यूकोट्रियन रिसेप्टर्स से बंधने की प्रक्रिया को अवरुद्ध करके काम करता है। ल्यूकोट्रियन के उनके रिसेप्टर्स से बंधने के कारण ब्रोन्कोकन्सट्रक्शन एवं नाक और वायुमार्ग में सूजन (inflammation) हो जाती है। इसलिए ल्यूकोट्रियन को उनके रिसेप्टर्स से बंधने को अवरुद्ध करने से ब्रोन्कोडायलेशन होता है और नाक और वायुमार्ग में सूजन को कम करने में मदद मिलती है। इसके परिणामस्वरूप सांस लेना आसान हो जाता है।

जबकि इस दवा में लेवोसेटिरिज़िन एक रासायनिक संदेशवाहक (chemical messenger) “हिस्टामाइन” की कार्रवाई को अवरुद्ध करके काम करता है। हिस्टामाइन की कार्रवाई को अवरुद्ध करने से एलर्जिक राइनाइटिस के लक्षणों को दूर करने में मदद मिलती है।

लेवोसेट एम सिरप के विकल्प / Substitutes

Montina-L SyrupAristo Pharmaceuticals Pvt Ltd
Montair LC Kid SyrupCipla Ltd
Montek LC Kid SyrupSun Pharmaceuticals Industries Ltd
Montemac-L SyrupMacleods Pharmaceuticals Pvt Ltd
Odimont-LC SyrupZydus Cadila
Allercet-M SyrupMicro Labs Ltd
Minolast SyrupLeeford Healthcare Ltd
Telekast-L Kid SyrupLupin Ltd

कुछ सामान्य प्रश्न

लेवोसेट एम सिरप किस काम आता है?

लेवोसेट एम सिरप आमतौर पर एलर्जी की स्थिति जैसे बहती नाक, खुजली, नम आँखें (watery eyes), छींक आना और भरी हुई नाक के उपचार में उपयोग किया जाता है। यह ब्रोन्कियल अस्थमा, हे फीवर और अन्य एलर्जिक त्वचा प्रतिक्रियाओं जैसी स्थितियों में भी निर्धारित किया जा सकता है।

क्या लेवोसेट एम सिरप नींद (sleep) का कारण बन सकता है?

हां, लेवोसेट एम सिरप ऐसे लक्षण पैदा कर सकता है जो आपके बच्चे को नींद का एहसास करा सकते है।

लेवोसेट एम सिरप की खुराक और अवधि क्या है?

लेवोसेट एम सिरप आमतौर पर 5ml सिरप दिन में एक या दो बार निर्धारित किया जा सकता है। लेकिन इस दवा की खुराक और अवधि सभी के लिए समान नहीं है और यह उम्र, लिंग, वजन और स्वास्थ्य जैसे कई कारकों पर निर्भर करती है। आपको हमेशा अपने चिकित्सक से इस दवा की खुराक और अवधि के बारे में सलाह लेनी चाहिए।

क्या लेवोसेट एम सिरप लेने से इसकी आदत लग सकती है?

नहीं, लेवोसेट एम सिरप में कोई ऐसा घटक नहीं है जो आपको इसकी आदत डालेगा।

लेवोसेट एम सिरप (Levocet M Syrup) का क्या संयोजन (composition) है?

प्रत्येक लेवोसेट एम सिरप (Levocet M Syrup) में मोंटेलुकास्ट (4mg/5ml) और लेवोसेटिरिज़िन (2.5mg/5ml) शामिल होता हैं।

क्या सर्दी जुकाम (cold) के लिए लेवोसेट एम सिरप (Levocet M Syrup) का उपयोग किया जा सकता है?

हां, सर्दी जुकाम (cold) के लक्षणों के इलाज के लिए आपका डॉक्टर आपके बच्चे को लेवोसेट एम सिरप देने की सलाह दे सकता है।

लेवोसेट एम सिरप किस चीज की दवा है?

लेवोसेट एम सिरप सर्दी जुकाम के लक्षणों जैसे छींक आना, नाक बहना, घरघराहट, साँस लेने में तकलीफ होना, नाक बंद होना आदि के इलाज में काम आने वाली दवा है।

क्या खांसी के लिए लेवोसेट एम सिरप (Levocet M Syrup) का उपयोग किया जा सकता है?

लेवोसेट एम सिरप को सर्दी जुकाम के साथ खांसी होने पर खांसी की दवाओं (cough syrup) के साथ उपयोग में लाया जा सकता है, पर केवल यही एक दवा को खांसी के इलाज के लिए लेने से कुछ खास परिणाम नहीं मिलेंगे।

सारांश / Summary

लेवोसेट एम सिरप में सक्रिय तत्व (active ingredients) के रूप में मॉन्टेलुकास्ट और लेवोसेटिरिज़िन शामिल है। इसका उपयोग आमतौर पर एलर्जिक राइनाइटिस के लक्षणों जैसे कि बहती नाक, छींक आना, खुजली, नम आँखें और बंद नाक के उपचार में किया जाता है।

यह दवा वायुमार्ग में सूजन को कम करने में भी मदद करती है और सांस लेना आसान बनाती है।

चेतावनी: Pharmababa.com में निहित जानकारी उपभोक्ताओं को शिक्षित करने के उद्देश्य से प्रस्तुत की गई है। Pharmababa.com में निहित कुछ भी चिकित्सीय निदान या उपचार के लिए अनुदेशात्मक नहीं है। Pharmababa.com में प्रस्तुत की गई सूचना को पूर्ण नहीं माना जाना चाहिए, न ही किसी विशेष व्यक्ति के लिए उपचार के पाठ्यक्रम का सुझाव देने के लिए इस पर भरोसा किया जाना चाहिए। Pharmababa.com में प्राप्त जानकारी संपूर्ण नहीं है और सभी बीमारियों, शारीरिक स्थितियों या उनके उपचार को कवर नहीं करती है।

Sahil Nasa (B. Pharma)
Sahil Nasa (B. Pharma)

साहिल पेशे से फार्मासिस्ट है। इन्हें किताबें पढ़ना और ब्लॉग लिखना पसंद है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *