Deriphyllin Tablet in Hindi: उपयोग, दुष्प्रभाव, सावधानियांं

Deriphyllin Tablet in Hindi

Compositionएटोफाइलिन (77mg) + थियोफाइलिन (23mg)
कंपनीZydus Cadilla
दवा का प्रकारब्रोंकोडायलेटर
प्रिस्क्रिप्शन आवश्यक हैहाँ
उपयोगसाँस लेने में समस्या, अस्थमा, COPD
दुष्प्रभावपेट दर्द, सिरदर्द, दस्त
सावधानियांंगर्भावस्था, अतिसंवेदनशीलता, शराब

डेरीफाइलिन टैबलेट के सामान्य उपयोग / General uses of Deriphyllin Tablet in Hindi

डेरीफाइलिन टैबलेट दो दवाओं से मिलकर बनी है। इसका उपयोग आमतौर पर सीओपीडी (क्रोनिक ऑब्सट्रक्टिव पल्मोनरी डिजीज) और अस्थमा से सम्बंधित लक्षणों जैसे सांस लेने में तकलीफ, सीने में जकड़न, और घरघराहट (wheezing) के इलाज और रोकथाम के लिए किया जाता है।

डेरीफाइलिन टैबलेट तुरंत अपना प्रभाव नहीं दिखाती है इसलिए इसे अचानक से होने वाली साँस लेने की समस्या के लिए इस्तेमाल नहीं किया जाना चाहिए।

Deriphyllin Tablet की सामग्री / Ingredients of Deriphylllin Tablet

Etophylline और Theophylline: Deriphyllin Tablet में एटोफाइलिन (77mg) और थियोफाइलिन (23mg) होता है। ये दोनों ही अवयव ब्रोन्कोडायलेटर्स के रूप में जानी जाने वाली दवाओं के वर्ग के अंतर्गत आते हैं। इनका उपयोग आमतौर पर अस्थमा, सीओपीडी और वातस्फीति (emphysema) के उपचार में किया जाता है।

डेरीफाइलिन टैबलेट कैसे काम करती है? / Mode of action

डेरीफाइलिन टैबलेट के दोनों अवयव ब्रोन्कियल वायुमार्ग में चिकनी मांसपेशियों को आराम देकर और उन्हें चौड़ा बनाकर काम करते हैं। इसके परिणामस्वरूप यह हवा के आवागमन को सुधारते है और साँस लेना आसान बनाते है।

Deriphyllin Tablet कब निर्धारित की जाती है? / When Deriphyllin Tablet is prescribed?

डेरीफाइलिन टैबलेट आमतौर पर अस्थमा, सीओपीडी (क्रोनिक ऑब्सट्रक्टिव पल्मोनरी डिजीज) और एम्फायसेमा से जुड़े लक्षणों जैसे घरघराहट, सांस लेने में तकलीफ, और सीने में जकड़न के लिए निर्धारित की जाती है।

Deriphyllin Tablet के दुष्प्रभाव / Side effects of Deriphyllin Tablet in Hindi

Deriphyllin Tablet के कारण कुछ दुष्प्रभाव हो सकते है जैसे:

  • मतली
  • उल्टी करना
  • पेट में दर्द
  • नींद न आना
  • सिर दर्द
  • दस्त
  • बेचैनी

सावधानियांं / Precautions

अतिसंवेदनशीलता: यदि आप इस दवा के किसी भी अवयव के प्रति अतिसंवेदनशील (एलर्जिक) हैं तो आपको इस दवा का उपयोग करने से बचना चाहिए।

गर्भावस्था: गर्भवती महिलाओं में इस दवा का इस्तेमाल सावधानी के साथ किया जाना चाहिए।

लीवर या किडनी की बीमारी: किसी भी लीवर या किडनी की बीमारी से पीड़ित मरीजों को सावधानी के साथ डेरीफाइलिन टैबलेट का इस्तेमाल करना चाहिए।

शराब: इस दवा का इस्तेमाल शराब के साथ नहीं करना चाहिए।

डेरीफाइलिन टैबलेट का इस्तेमाल कैसे करें? / How to use Deriphyllin Tablet?

डॉक्टर की सलाह के अनुसार Deriphyllin Tablet की खुराक लें।

यह दवा आपको खाना खाने के 1 घंटे पहले या 2 घंटे बाद लेनी चाहिए।

टैबलेट को चबाएं, कुचलें या तोड़ें नहीं। इसे पूरी तरह से निगल लें।

Deriphyllin Tablet का संग्रहण / Storage of Deriphyllin Tablet

डेरीफाइलिन टैबलेट को कमरे के तापमान पर स्टोर करें।

इस दवा को बच्चों और पालतू जानवरों से दूर रखें।

इस दवा को सीधी धूप से दूर रखें।

अपने डॉक्टर को बताएं अगर: / Tell your doctor if:

  • आपको Deriphyllin Tablet के किसी भी अवयव से एलर्जी है।
  • आप एक गर्भवती महिला हैं।
  • आपको लीवर या किडनी की कोई बीमारी है।

Deriphyllin Tablet से संबंधित टिप्स

आपका डॉक्टर डेरीफाइलिन टैबलेट को अस्थमा, सीओपीडी और एम्फायसेमा से संबंधित लक्षणों के इलाज के लिए लिख सकता है।

बिना डॉक्टर की सलाह के इस दवा का सेवन न करें।

आपको डॉक्टर से सलाह लिए बिना डेरीफाइलिन टैबलेट लेना बंद नहीं करना चाहिए, भले ही आप इस दवा को लेने के बाद बेहतर महसूस करने लगे हो।

इस दवा को हमेशा अपने डॉक्टर द्वारा बताई गई खुराक और अवधि के अनुसार ही लें।

कुछ सामान्य प्रश्न

Deriphyllin Tablet के क्या प्रयोग हैं?

Deriphyllin Tablet दो दवाओं से मिलकर बनी है। इसका उपयोग आमतौर पर सीओपीडी (क्रोनिक ऑब्सट्रक्टिव पल्मोनरी डिजीज) और अस्थमा से सम्बंधित लक्षणों जैसे सांस लेने में तकलीफ, सीने में जकड़न, और घरघराहट (wheezing) के इलाज और रोकथाम के लिए किया जाता है।

क्या मैं गर्भावस्था के दौरान Deriphyllin Tablet ले सकती हूं?

आपको गर्भावस्था के दौरान Deriphyllin Tablet केवल तभी लेनी चाहिए जब यह आपके डॉक्टर द्वारा स्पष्ट रूप से निर्धारित की गई हो।

Deriphyllin Tablet के क्या दुष्प्रभाव हैं?

Deriphyllin Tablet से सिरदर्द, पेट में दर्द, बेचैनी, दस्त, जी मिचलाना और उल्टी जैसे कुछ दुष्प्रभाव हो सकते हैं।

वयस्कों के लिए Deriphyllin Tablet की खुराक और अवधि क्या है?

वयस्कों के लिए, Deriphyllin Tablet की एक टैबलेट को दिन में 1-2 बार निर्धारित किया जा सकता है। लेकिन इस दवा की खुराक और अवधि सभी के लिए समान नहीं है और विभिन्न कारकों पर निर्भर करती है। इस दवा की खुराक और अवधि के बारे में आपको हमेशा अपने डॉक्टर से सलाह लेनी चाहिए।

क्या खांसी के लिए Deriphyllin Tablet का प्रयोग किया जा सकता है?

हाँ, आपका डॉक्टर दमा और फेफड़ों से संबंधित अन्य विकारों से जुड़ी खांसी के इलाज के लिए Deriphyllin Tablet को लेने की सलाह दे सकता है।

क्या अस्थमा के लिए Deriphyllin Tablet का प्रयोग किया जा सकता है?

जी हाँ, अस्थमा के इलाज के लिए Deriphyllin Tablet निर्धारित की जा सकती है। यह bronchi की मांसपेशियों को आराम देने में मदद करती है और सांस लेना आसान बनाती है।

सारांश / Summary

Deriphyllin Tablet एक प्रिस्क्रिप्शन दवा है जिसमे सक्रिय अवयव (active ingredient) के रूप में एटोफाइलिन और थियोफाइलिन शामिल है।

यह आमतौर पर अस्थमा, सीओपीडी (क्रोनिक ऑब्सट्रक्टिव पल्मोनरी डिजीज), और वातस्फीति से जुड़े लक्षणों के उपचार में उपयोग की जाती है।

किसी भी लीवर या किडनी की बीमारी से पीड़ित मरीजों को इस दवा का इस्तेमाल सावधानी के साथ करना चाहिए।

चेतावनी: Pharmababa.com में निहित जानकारी उपभोक्ताओं को शिक्षित करने के उद्देश्य से प्रस्तुत की गई है। Pharmababa.com में निहित कुछ भी चिकित्सीय निदान या उपचार के लिए अनुदेशात्मक नहीं है। Pharmababa.com में प्रस्तुत की गई सूचना को पूर्ण नहीं माना जाना चाहिए, न ही किसी विशेष व्यक्ति के लिए उपचार के पाठ्यक्रम का सुझाव देने के लिए इस पर भरोसा किया जाना चाहिए। Pharmababa.com में प्राप्त जानकारी संपूर्ण नहीं है और सभी बीमारियों, शारीरिक स्थितियों या उनके उपचार को कवर नहीं करती है।