Autrin XT Tablet in Hindi: उपयोग, दुष्प्रभाव, सावधानियांं

Autrin XT Tablet in Hindi

Compositionफेरस एस्कॉर्बेट (100mg) + फोलिक एसिड (1.5mg) + साइनोकोबालामीन (15mcg) + जिंक (22.5mg)
कंपनीPfizer Ltd
दवा का प्रकारHealth Supplement
प्रिस्क्रिप्शन आवश्यक हैनहीं
उपयोगआयरन की कमी, एनीमिया, गर्भावस्था
दुष्प्रभावमतली, उल्टी, पेट में परेशानी
सावधानियांंअतिसंवेदनशीलता, जिगर या गुर्दे की बीमारी

ऑट्रिन एक्सटी टैबलेट के सामान्य उपयोग / General uses of Autrin XT Tablet in Hindi

ऑट्रिन एक्सटी टैबलेट एक आहार पूरक (dietary supplement) है। इसका उपयोग आयरन की कमी, एनीमिया और मेगालोब्लास्टिक एनीमिया के उपचार के लिए किया जाता है जो अल्प खुराक (poor diet), फोलेट की कमी, और भोजन के खराब अवशोषण (absorption) के कारण होता है।

इस दवा को गर्भवती महिलाओं के लिए भी निर्धारित किया जा सकता है। यह दवा शरीर में अधिक रक्त का उत्पादन करने और आयरन की आवश्यकता को पूरा करने में मदद करती है ताकि बच्चा सामान्य रूप से विकसित हो सके।

Autrin XT Tablet की सामग्री / Ingredients of Autrin XT Tablet

फेरस एस्कॉर्बेट: ऑट्रिन एक्सटी टैबलेट में फेरस एस्कॉर्बेट (100mg) होता है। यह एक आयरन सप्लीमेंट है। इसका उपयोग मुख्य रूप से आयरन की कमी की रोकथाम और उपचार के लिए किया जाता है।

फोलिक एसिड या विटामिन B9: इसमें फोलिक एसिड (1.5mg) होता है। यह विटामिन बी का एक उपप्रकार है। फोलिक एसिड आरबीसी (लाल रक्त कोशिकाओं) के विकास में मदद करता है और आमतौर पर फोलेट की कमी और एनीमिया की रोकथाम और उपचार में निर्धारित किया जाता है।

साइनोकोबालामीन या विटामिन B12: ऑट्रिन एक्सटी टैबलेट में साइनोकोबालामिन (15mcg) होता है। यह मस्तिष्क के कार्य, तंत्रिकाओं के स्वास्थ्य, और लाल रक्त कोशिकाओं के उत्पादन के लिए आवश्यक है।

जिंक: ऑट्रिन एक्सटी टैबलेट में जिंक (22.5mg) होता है। जिंक प्रतिरक्षा कार्यो (immune function), प्रोटीन संश्लेषण, और एंजाइम प्रतिक्रियाओं को बढ़ावा देने में मदद करता है।

ऑट्रिन एक्सटी टैबलेट कैसे काम करती है? / Mechanism of action

ऑट्रिन एक्सटी टैबलेट चार दवाओं से मिलकर बनी है। इस टैबलेट में मौजूद फेरस एस्कॉर्बेट शरीर की आयरन की आवश्यकता को पूरा करके काम करता है और शरीर में आयरन की कमी को रोकने और उसका इलाज करने में मदद करता है।

जबकि इस टैबलेट में फोलिक एसिड विटामिन बी का एक उपप्रकार है। फोलिक एसिड शरीर को अधिक आरबीसी (लाल रक्त कोशिकाएं) बनाने में मदद करता है और कुछ तरह के एनीमिया को होने से रोकता है जो फोलिक एसिड की कमी के कारण होते है।

इस टैबलेट में मौजूद साइनोकोबालामिन तंत्रिका स्वास्थ्य, मस्तिष्क के कार्य, और लाल रक्त कोशिकाओं के उत्पादन को बढ़ावा देने में मदद करता है।

ऑट्रिन एक्सटी टैबलेट में जिंक वृद्धि और विकास, प्रतिरक्षा कार्यो, और विभिन्न एंजाइम प्रतिक्रियाओं को बढ़ावा देने में मदद करता है।

Autrin XT Tablet कब निर्धारित की जाती है? / When Autrin XT Tablet is prescribed?

आयरन की कमी: यह एक ऐसी स्थिति है जब रक्त में आयरन का स्तर सामान्य से कम हो जाता है। ऑट्रिन एक्सटी टैबलेट में फेरस एस्कॉर्बेट रक्त में आयरन की आवश्यकता को पूरा करने में मदद करता है।

एनीमिया: यह एक ऐसी स्थिति है जब शरीर में आरबीसी (लाल रक्त कोशिकाओं) की गिनती सामान्य से कम हो जाती है। इसके कारण थकान, सांस लेने में तकलीफ, और ऊर्जा की कमी जैसे लक्षण हो सकते हैं। ऑट्रिन एक्सटी टैबलेट में फोलिक एसिड शरीर में अधिक लाल रक्त कोशिकाओं को बनाने में मदद करता है और एनीमिया की रोकथाम और उपचार में मदद करता है।

फोलेट की कमी: फोलिक एसिड की कमी वाले मरीजों में ऑट्रिन एक्सटी टैबलेट को लेने की अनुशंसा की जा सकती है।

मेगालोब्लास्टिक एनीमिया: यह एक रक्त विकार है जिसमे लाल रक्त कोशिकाओं का आकार सामान्य से बड़ा हो जाता है और उनकी संख्या में कमी हो जाती है। यह आमतौर पर विटामिन B12 और विटामिन B9 (फोलिक एसिड) की कमी के कारण होता है। ऑट्रिन एक्सटी टैबलेट को मेगालोब्लास्टिक एनीमिया के इलाज में भी निर्धारित किया जा सकता है।

यह भी पढ़ें:  Atorsave 10 Tablet in Hindi: उपयोग, दुष्प्रभाव, सावधानियांं

गर्भावस्था: गर्भावस्था में ऑट्रिन एक्सटी टैबलेट को लेने की अनुशंसा की जा सकती है। यह शरीर को अधिक रक्त का उत्पादन करने में मदद करती है ताकि बच्चा सामान्य रूप से विकसित हो सके।

Autrin XT Tablet के दुष्प्रभाव / Side effects of Autrin XT Tablet in Hindi

आमतौर पर, ऑट्रिन एक्सटी टैबलेट के कारण कोई गंभीर दुष्प्रभाव नहीं होते है लेकिन कुछ मामलों में, यह कुछ दुष्प्रभाव दिखा सकती है जैसे:

  • मतली
  • उल्टी
  • पेट की परेशानी
  • दस्त

सावधानियांं / Precautions

अतिसंवेदनशीलता: यदि आप ऑट्रिन एक्सटी टैबलेट के किसी भी अवयव के प्रति अतिसंवेदनशील (एलर्जिक) हैं तो आपको इस दवा का उपयोग करने से बचना चाहिए।

जिगर या गुर्दे की बीमारी: जिगर या गुर्दे की बीमारी वाले मरीजों में इस दवा का इस्तेमाल सावधानी के साथ किया जाना चाहिए।

यदि आप पहले से ही कोई अन्य आहार पूरक या दवा ले रहे हैं तो आपको इस दवा को लेने से बचना चाहिए या अपने चिकित्सक से परामर्श करना चाहिए।

ऑट्रिन एक्सटी टैबलेट का इस्तेमाल कैसे करें? / How to use Autrin XT Tablet in Hindi?

आप इस दवा को दिन में एक बार या फिर अपने डॉक्टर की सलाह के अनुसार ले सकते हैं।

भोजन करने के बाद इस दवा को लेना सबसे अच्छा है।

टैबलेट को चबाएं, कुचलें, या तोड़ें नहीं। इसे पूरी तरह से निगल लें।

Autrin XT Tablet का संग्रहण / Storage

कमरे के तापमान पर ऑट्रिन एक्सटी टैबलेट को स्टोर करें।

इस दवा को सीधी धूप से दूर रखें।

इस दवा को बच्चों और पालतू जानवरों से दूर रखें।

कुछ सामान्य प्रश्न

ऑट्रिन एक्सटी टैबलेट के क्या प्रयोग हैं?

ऑट्रिन एक्सटी टैबलेट एक स्वास्थ्य पूरक (health supplement) है। यह आमतौर पर आयरन की कमी, एनीमिया, मेगालोब्लास्टिक एनीमिया और फोलेट की कमी के उपचार में प्रयोग की जाती है।

क्या मैं ऑट्रिन एक्सटी टैबलेट का उपयोग गर्भावस्था में कर सकती हूँ?

जी हाँ, गर्भावस्था के दौरान ऑट्रिन एक्सटी टैबलेट को लेने की सलाह दी जा सकती है। यह शरीर में आयरन और फोलिक एसिड की आवश्यकता को पूरा करती है और बच्चे को सामान्य रूप से बढ़ने में मदद करती है। आपको गर्भावस्था में इस दवा का उपयोग तभी करना चाहिए जब यह आपके डॉक्टर द्वारा स्पष्ट रूप से निर्धारित की गई हो।

क्या ऑट्रिन एक्सटी टैबलेट को लेने से इसकी आदत लग सकती है?

नहीं, ऑट्रिन एक्सटी टैबलेट में कोई भी घटक ऐसा नहीं है जो आपको इसको लेने की आदत डालेगा।

वयस्कों के लिए ऑट्रिन एक्सटी टैबलेट की खुराक और अवधि क्या है?

वयस्कों के लिए, ऑट्रिन एक्सटी टैबलेट को आमतौर पर दिन में एक बार एक टैबलेट लेने की सलाह दी जाती है। लेकिन इस दवा की खुराक और अवधि सभी के लिए समान नहीं है और कई कारकों पर निर्भर करती है। इस दवा की खुराक और अवधि के बारे में आपको हमेशा अपने डॉक्टर से सलाह लेनी चाहिए।

सारांश / Summary

ऑट्रिन एक्सटी टैबलेट एक स्वास्थ्य पूरक है जिसमें सक्रिय तत्व (active ingredient) के रूप में फेरस एस्कॉर्बेट, फोलिक एसिड, साइनोकोबालामिन और जिंक होता है। इसका उपयोग मुख्य रूप से आयरन की कमी, एनीमिया, फोलिक एसिड की कमी और मेगालोब्लास्टिक एनीमिया के उपचार में किया जाता है।

जिगर या गुर्दे की बीमारी वाले मरीजों में इस दवा का इस्तेमाल सावधानी के साथ किया जाना चाहिए।

चेतावनी: Pharmababa.com में निहित जानकारी उपभोक्ताओं को शिक्षित करने के उद्देश्य से प्रस्तुत की गई है। Pharmababa.com में निहित कुछ भी चिकित्सीय निदान या उपचार के लिए अनुदेशात्मक नहीं है। Pharmababa.com में प्रस्तुत की गई सूचना को पूर्ण नहीं माना जाना चाहिए, न ही किसी विशेष व्यक्ति के लिए उपचार के पाठ्यक्रम का सुझाव देने के लिए इस पर भरोसा किया जाना चाहिए। Pharmababa.com में प्राप्त जानकारी संपूर्ण नहीं है और सभी बीमारियों, शारीरिक स्थितियों या उनके उपचार को कवर नहीं करती है।

Sahil Nasa (B. Pharma)
Sahil Nasa (B. Pharma)

साहिल पेशे से फार्मासिस्ट है। इन्हें किताबें पढ़ना और ब्लॉग लिखना पसंद है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *